11 December 2005

लोकार्पण समारोह

महाकवि श्रीकृष्ण सरल द्वारा रचित महाकाव्य अजेय सेनानी "चन्द्रशेखर आज़ाद" 26 भागों में इण्टरनेट पर यूनिकोड फोण्ट में तैयार है। लोकार्पण माननीय श्री शिवराज सिंह चौहान, मुख्यमन्त्री, मध्य प्रदेश शासन, द्वारा - दिनाँक- 14 दिसम्बर 2005 को मुख्यमन्त्री कार्यालय, बल्लभ भवन भोपाल में किया गया (लोकार्पण के क्षण)। अमर शहीद चन्द्रशेखर आज़ाद का शताब्दी वर्ष पूरे देश में मनाया जा रहा है। ऍसे पावन अवसर पर हिन्दी भाषा में इस महाकाव्य के इण्टरनेट पर प्रकाशित होना बहुत महत्वपूर्ण और सामयिक है। भारतवर्ष तथा विश्व के अन्य देशों में रहने वाले हिन्दी प्रेमी भारतीयों के लिए यह एक अनुपम भेंट है। हमारा अगला प्रयास रहेगा कि सरल जी द्वारा रचित "शहीदे आज़म भगतसिंह" महाकाव्य को भी इण्टरनेट पर पाठकों के लिए उपलब्ध कराया जा सके।
*********

लोकार्पण-
अजेय सेनानी
चन्द्रशेखर आज़ाद महाकाव्य
द्वारा-
माननीय
श्री शिवराज सिंह चौहान
मुख्यमन्त्री
मध्य प्रदेश शासन
**********



विशेष सहयोग
पं० शिव चौबे
सदस्य पंच - ज ( मध्य प्रदेश )
**********

परिकल्पना एवं निर्माण- डॉ॰ जगदीश व्योम

तकनीकी सहयोग- डॉ॰ पूर्णिमा वर्मन
(संपादक अनुभूति/अभिव्यक्ति जालघर)
* प्रत्यूष

10 December 2005

कुछ चित्र


प्रो० सरल जी का सम्मान करते हुए
पूर्व प्रधानमन्त्री
माननीय श्री अटल विहारी वाजपेई







लोकार्पण के क्षण



कुछ अन्य दुर्लभ चित्र



(शहीदे आज़म भगत सिंह की पूज्य माँ श्रीमती विद्यावती जी के साथ श्रीकृष्ण सरल)

विविध लिंक

चन्द्रशेखर आज़ाद महाकाव्य

सरल चेतना जालघर

सरल चेतना पत्रिका

प्रतिक्रिया

प्रतिक्रिया